बग बाउंटी प्रोग्राम

एप में कमी ढुंढने के गुगल दे रहा है 64000 रूपये ईनाम

गूगल ने बग बाउंटी प्रोग्राम की शुरूआत की है । इसे एंड्रायड से पहले से ज्यादा सुरक्षित करने के उद्देश्य से किया गया है । माना जा रहा है कि अब हैकर्स या सिक्योरिटी रिसर्चर्स को मौका दिया जा रहा है कि वो गूगल प्ले स्टोर में खामी ढूंढ कर बताएं , गूगल ने एेसा अपने कुछ मुख्य एंड्रायड एप्स के लिये किया है ।

गूगल ने इस प्रोग्राम का नाम गूगल प्ले सिक्टयोरिटी रिवॉर्ड रखा है । इसके तहत हैकर्स और सिक्योरिटी रिसर्चर्स एंड्रॉयड एप्स के डेवेलपर्स के साथ बग ढूंढने और उसे सही करने का काम करेंगें । इसके लिये गूगल ने 1,000 डॉलर यानी की करीब 64000 रूपये की इनामी राशि तय की है ।



इस प्रोग्रम का उद्देश्य एेप सिक्योरिटी बढ़ाना है जो डेवेलपर्स के लिये फायदेमंद साबित होगी । इतना ही नहीं ये एंड्रायड यूजर्स और पूरे गूगल प्ले इकोसिस्टम के लिये फायदेमंद होगा । गूगल में इस प्रोग्राम के लिये बग बाउंटी प्लेटफॉर्म HackerOne के सा थ पार्टनरशीप की है जो इसे मैनेज करेगा । HackerOne एक एेसा प्लेटफॉर्म है जो बिजनेस और साइबर सिक्योरिटी रिसर्चर्स के बीच की कड़ी का काम करता है और यह इस तरह का सबसे बड़ा साईबर सिक्योरिटी प्लेटफॉर्म है ।

इस एप के माध्यम से जो भी रिपोर्ट करना चाहते है  वो सीधे एप डेव्हलपर को रिपोर्ट कर सकेंगें । एक बार खामी ठीक हो गई तो इसके बाद हैकर्स को बग रिपोर्ट HackerOne के साथ शेयर करनी होगी । इन सब प्रक्रिया के बाद गूगल ईनाम की राशि देगा ।



बग बाउंटी प्रोग्राम के बारे में जानकारी नहीं है तो इसकी जानकारी ले लें , क्योंकि अधिकतर बड़ी टेक कंपनिया जैसा फेसबुक और गूगल बग बाउंटी प्रोग्राम चलाती है । इसके तहत जो खामिया होती है वो आप बता सकते है और इनसे भी रिवार्ड जीत सकते है । फेसबुक बग बाउंटी प्रोग्राम में  भारतीय हैकर्स सबसे आगे है और उन्होंने फेसबुक की तरफ से करोड़ों रूपयों के इनाम जीत चुके है ।

 

Post Author: Namastey World

1 thought on “एप में कमी ढुंढने के गुगल दे रहा है 64000 रूपये ईनाम

Leave a Reply

Your email address will not be published.